Love or Sad Shayari for Valentine day in hindi

Love or sad (dard bhari) shayari specially valentine day ke liye hindi में दिया गया है।

love pyar or dard bhari shayari valentine day in hindi

नींद से क्या शिकवा
जो आती नहीं रात भर
कसूर तो उस चेहरे का है जो
सोने नहीं देता।

किसी को चाहकर छोड़ देना
बहुत आसान है
किसी को छोड़कर भी चाहो तो
पता चलेगा मोहब्बत किसे कहते है।

love and dard painful shayari in hindi

हद से ज़्यादा प्यार भी
इंसान को
पागल बना देता है।

तुझे तो मिल गए होंगे
नए साथी लेकिन
मुझे हर मोड़ पर आज भी
तेरी कमी महसूस होती है।

जिनके दिल अच्छे
होते है
अक्सर उनकी किस्मत
खराब होती है।

कुछ इस अदा से मेरे साथ
बेवफ़ाई कर
की तेरे बाद मुझे कोई
बेवफ़ा ना लगे।

जो जागते हैं
तन्हा रातों में किसी के लिए
वही जानते है किसी को खोने का
दर्द क्या होता है।

love shayari dard bhari shayari hindi me

वो मेरी किस्मत में नहीं है
सुना है लोगो से
फिर सोचता हूँ किस्मत तो
खुदा लिखता है लोग नहीं।

लिखना तो यो था कि खुश हूँ
तेरे बगैर भी
पर कलम से पहले
आँसू कागज़ पर गिर गया।

बात कुछ और होती है
बयां कुछ और करते है
खफा जब तुमसे होते है तो
ज़ुल्म खुद पर करते है।

खरीद सकते तो उसे
जिंदगी बेच कर खरीद लेते
पर कुछ लोग कीमत से नहीं
किस्मत से मिला करते है।

किसी की आदत लगने में
वक़्त नहीं लगता
मगर आदत को खत्म करने में
उम्र बीत जाती है।

dard love shayari in hindi

इतना दर्द तो
मरने से भी नहीं होगा
जितना दर्द
तेरे बिछड़ने से होगा।

तुम्हारे बात मेरा कौन बनेगा
हमदर्द
मैंने खुद को भी भुला दिया
तुझे पाने की जिद में।

तड़प के देखो किसी की चाहत में
तो समझ पाओगे की
इंतजार क्या होता है
युहीं मिल जाए कोई बिना तड़पे
तो कैसे जान पाओगे की
प्यार क्या होता है।

हमको आता नहीं अपने जख्मों को
दिखावा करना
खुद ही रोते है तड़पते है
सो जाते है। 

काश ये दिल बेजान होता
ना किसी के
आने से धड़कता ना किसी के
जाने पर तड़पता।

अगर यकीन ना हो तो
बिछड़ कर देख लो
तुम मिलोगे सबसे हमारी ही
तलाश में।

थक सा गया है
मेरी चाहत का बजूद
अब कोई अच्छा भी लगे तो
इजहार नहीं करता।

आखिर क्यों बस जाते है दिल में
बिना इजाजत लिए
वो लोग जिन्हें हम जिन्दगी में
कभी पा नहीं सकते।

मेरी फितरत में नहीं है किसी से
नाराज होना
नाराज तो वो होते है जिसे खुद पर
घमंड होता है।

तुम्हारी और हमारी रात में बस
फर्क इतना है
तुम्हारी सो के गुजरती है
हमारी रो के गुजरती है।

हमने बहुत कुछ सीखा
इस दुनिया में
ना सिख सके तो बस एक
तुझे भूल पाना।

मेरी जिन्दगी में रहोगे तुम
उम्र भर अब
चाहे प्यार बनके रहो या
दर्द बनके।

About the Author: Himanshu Kumar

Hellow friends, welcome to my blog NewFeatureBlog. I am Himanshu Kumar, a part time blogger from Bihar, India. Here at NewFeatureBlog I write about Blogging, Social media, WordPress and Making Money Online etc.

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *