डरु मैं किस लिए गुस्से से, प्यार में क्या था : ओशो प्रवचन

daru mai kisliye gusse se pyar me kya tha

ओशो प्रवचन (Osho Pravachan) डरु मैं किस लिए गुस्से से, प्यार (pyar) में क्या था ओशो कहते है : थोड़ा तुम सोचो भी कौन तुम्हें सुख दे पाता है ? कौन तुम्हे दुख दे पाता है ? सब…

प्रेमी के साथ प्रेम में जो सुख, आनंद और अहोभाव अनुभव होता है, वह क्या है

sachcha pyar love kya hai true love

मैं ओशो के प्रवचन से बहुत ही प्रभावित हूँ। जब से मैंने इनका प्रवचन सुना तब से मैं इनका बहुत बड़ा फैन हो गया। इनका प्रवचन सुनने का मुझे लत से लग गया है। इनके एक-एक बात का…