समाधि (samadhi) द्वारा एक अदृश्य सीमा रेखा के पार अनन्त में प्रवेश

हमारे इस पार्थिव जगत और ब्रह्माण्ड के अन्य लोक लोकान्तरों के बीच निःसंदेह एक सीमा है, एक अदृश्य रेखा है जो अनन्त है। आखिर उस अदृश्य सीमा रेखा के पार क्या है ? क्या शरीर रहते उस गहन…